राष्ट्रीय - वायुसेना में शामिल होने के लिए यह खास हेलीकॉप्टर पहुंचे भारत, ताकत जान उड़ जाएंगे दुश्मनों के होश

वायुसेना में शामिल होने के लिए यह खास हेलीकॉप्टर पहुंचे भारत, ताकत जान उड़ जाएंगे दुश्मनों के होश



Posted Date: 11 Feb 2019

4017
View
         

नई दिल्ली। बात चाहे भारतीय वायुसेना की हो या थल सेना की या फिर नौसेना की। भारत की तीनों ही सेनाएं वर्तमान समय में इतनी मजबूत और सक्षम हैं कि किसी भी दुश्मन देश के छक्के छुड़ा सकती हैं। लेकिन आने वाले दिनों में भारतीय वायुसेना की ताकत और भी ज्यादा बढ़ने वाली है। क्योंकि एयरोस्पेस कंपनी बोइंग ने बीते रविवार को यह घोषणा की है कि भारतीय वायुसेना के लिए प्रथम चार सीएच-47एफ (आई) मल्टी मिशन हेलीकॉप्टर गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पहुंच चुके हैं। जिन्हें जल्द ही भारतीय वायुसेना में शामिल किया जाएगा।

इस बयान में यह भी कहा गया है कि इन हेलीकॉप्टर को चंडीगढ़ भेजा जाएगा, जहां से इन्हें औपचारिक रूप से साल 2019 के अंत तक भारतीय वायुसेना में शामिल कर लिया जाएगा। यह एक उन्नत मल्टी मिशन हेलीकॉप्टर है, जिसके जरिए भारतीय वायुसेना की ताकत और भी ज्यादा बढ़ जाएगी। गौरतलब हो कि इन चिनूक हेलीकॉप्टर को खरीदने के लिए सितंबर 2015 में बोइंग और अमेरिकी सरकार के बीच करार किया गया था। जिसके चलते कुल 15 हेलीकॉप्टर खरीदे जाने थे।

जिसके बाद अगस्त 2017 में रक्षा मंत्रालय ने भारतीय सेना के लिए अमेरिकी कंपनी बोइंग से छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर और 15 चिनूक भारी मालवाहक हेलीकॉप्टर खरीदने को मंजूरी प्रदान कर दी थी। इस सौदे की कीमत 4168 करोड़ रुपए है। बताते चलें कि यह एक मल्टीमिशन श्रेणी का हेलॉकॉप्टर है और दुनिया में पहले चिनूक हेलीकॉप्टर ने सन 1962 में उड़ान भरी थी।

यह भी पढ़ें : जम्मू-कश्मीर : सेना को मिली बड़ी कामयाबी, 5 आतंकियों को उतारा मौत के घाट

यह है खासियत

आपको बता दें कि यह वही हेलीकॉप्टर है, जिसके जरिए अमेरिका ने पाकिस्तान में घुसकर आतंकी ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था। इसके अलावा यह हेलीकॉप्टर अमेरिका की हर एक युद्धक कार्रवाई में मुख्य भूमिका निभाता रहा है। वहीं भारत ने सीएच-47 एफ हेलीकॉप्टर खरीदा है। जो कि 9.6 टन वजन उठाने में सक्षम है। जिसमें भारी मशीन, तोप और बख्तरबंद गाड़ियां सभी शामिल हैं। अभी तो भारत को केवल चार चिनूक हेलीकॉप्टर की ही आपूर्ति हुई है लेकिन इस साल के अंत तक सभी अपाचे और चिनूक हेलीकॉप्टर भारतीय वायुसेना को मिल जाएंगे।

यह भी पढ़ें : एक मजदूर की बेटी के जरिए बदलेगा इतिहास, इस गांव की धरती पर उतरेगा हेलीकॉप्टर


BY : Akhilesh Tiwari




Loading...




Loading...