कारोबार - Elections 2019: चुनाव में 60 हजार करोड़ रुपए होंगे खर्च, भारत तोड़ सकता हैं अमेरिका का भी रिकॉर्ड!

Elections 2019: चुनाव में 60 हजार करोड़ रुपए होंगे खर्च, भारत तोड़ सकता हैं अमेरिका का भी रिकॉर्ड!



Posted Date: 11 Mar 2019

38
View
         

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने रविवार (10 मार्च) को शाम के समय लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। इसके अलावा चुनाव आयोग ने आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और सिक्किम में विधानसभा चुनाव कराने की तारीखों का भी ऐलान किया है।

बता दें कि चुनाव आयोग के सर्वे के अनुसार 2019 लोकसभा चुनाव दुनिया का सबसे महंगा चुनाव होने जा रहा है। दक्षिण एशिया कार्यक्रम के निदेशक मिलन वैष्णव के मुताबिक अभी तक सबसे अधिक 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में 46,211 करोड़ रुपए खर्च हुए थे।

वहीं भारत में 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में 35,547 करोड़ रुपए खर्च हुए थे। अब इस बार के लोकसभा चुनाव इससे ज्यादा खर्च होने सम्भावना है। वैष्णव के मुताबिक अगर ऐसा हुआ तो यह दुनिया का सबसे महंगा चुनाव होगा।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव का हवाला देते हुए सेंटर फार मीडिया स्टडीज ने बताया कि कर्नाटक में बीते साल हुए विधानसभा चुनाव में अब तक सबसे ज्यादा पैसा खर्च किए गए थे। सीएमएस के अनुसार सभी राजनितिक पार्टियां और उनके उम्मीदवार ने 9,500 से 10,500 करोड़ रुपए खर्च किए थे। इसमें प्रधानमंत्री के अभियान में हुआ खर्च शामिल नहीं है।

वहीं दूसरी तरफ सीएमएस के एन भास्कर राव ने पिछली लोकसभा चुनाव के बारे में बताते हुए कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में 35,000 करोड़ खर्च हुआ था। अगर खर्च का दर ऐसा ही रहा तो इस बार लोकसभा चुनाव में 50,000 से 60,000 करोड़ रुपए खर्च हो सकता है।

विपक्ष ने चुनाव आयोग पर निशाना साधाते हुए कहा कि चुनाव आयोग जान बुझकर चुनाव तारीख की घोषणा करने में देरी की यह देरी इसलिए की गई ताकि भाजपा सरकार आचार संहिता लागू होने से पहले कुछ घोषणा कर सके। ऐसा ही आरोप गुजरात विधानसभा चुनाव के समय हार्दिक पटेल ने लगाया था। वहीं चुनाव आयोग ने कहा कि हमने तय समय के अनुसार ही चुनाव की तारीख का घोषणा किया है इसमें कोई देरी नहीं हुई है।

RBI को नहीं पता नोटबंदी में कितने पुराने नोट पेट्रोल पंपों से बैंकों में वापस आए


BY : Ankit Singh




Loading...




Loading...