मनोरंजन - Birthday Special : ...और इस तरह आमिर खान बन गये बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट

Birthday Special : ...और इस तरह आमिर खान बन गये बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट



Posted Date: 14 Mar 2019

12
View
         

मुंबई। 14 मार्च 1965 को जन्में आमिर खान उन गिने चुने कलाकारों में हैं जो फिल्मों का चुनाव उनकी क्वालिटी पर करते हैं और बॉलीवुड में एक अलग मुकाम हासिल कर लिया। उनके पिता ताहिर हुसैन और चाचा नासिर हुसैन जाने माने फिल्म निमार्ता थे। घर में फिल्मी माहौल के कारण आमिर की रूचि भी फिल्मों में हो गयी और वह अभिनेता बनने का सपना देखने लगे।

आमिर ने अपने सिने करियर की शुरूआत वर्ष 1973 में बतौर बाल कलाकार अपने चाचा नासिर हुसैन के बैनर तले बनी फिल्म 'यादो की बारात' से की। बाद में उन्होंने वर्ष 1974 में प्रदर्शित फिल्म 'मदहोश' में भी बतौर बाल कलाकार काम किया। इसके बाद उन्होंने लगभग 11 वर्षों तक फिल्म इंडस्ट्री से किनारा कर लिया।

वर्ष 1984 में प्रदर्शित फिल्म 'होली' से आमिर खान ने बतौर अभिनेता सिने करियर की शुरूआत की। लेकिन वह दर्शकों के बीच अपनी पहचान बनाने में असफल रहे। लगभग चार वर्ष तक मायानगरी मुंबई में संघर्ष करने के बाद 1988 में अपने चाचा नासिर हुसैन के बैनर तले बनी फिल्म 'कयामत से कयामत तक' की सफलता के बाद आमिर बतौर अभिनेता फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाने में सफल हो गये। फिल्म में अपने दमदार अभिनय के लिये उन्हें उस वर्ष नवोदित अभिनेता का फिल्म फेयर पुरस्कार प्राप्त हुआ।

वर्ष 1994 में राजकुमार संतोषी निदेर्रिशत फिल्म 'अंदाज अपना अपना ' में आमिर खान के अभिनय का नया रंग देखने को मिला। इस फिल्म के पहले उनके बारे में यह बात की जाती थी कि वह केवल रूमानी भूमिका ही निभा सकते हैं लेकिन आमिर खान ने अभिनेता सलमान खान के साथ अपने हास्य अभिनय से दर्शको को मंत्रमुग्ध कर दिया। फिल्म में अपने बेहतरीन अभिनय के लिये वह सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के फिल्म फेयर पुरस्कार के लिये नामांकित भी किये गये।

वर्ष 1994 में ही प्रदर्शित फिल्म 'बाजी' में उनके अभिनय का नया रूप देखने को मिला। रोचक बात है कि इस फिल्म के एक गाने में आमिर ने एक लड़की की भूमिका निभाई और इसके लिये उन्होंने अपने पूरे शरीर पर वैक्सिन का इस्तेमाल किया। वर्ष 1996 में आमिर खान के सिने करियर की एक और महत्वपूर्ण फिल्म 'राजा हिंदुस्तानी'  प्रदर्शित हुयी।

वर्ष 1998 में आमिर खान के सिने करियर की एक और सुपरहिट फिल्म 'गुलाम' प्रदर्शित हुयी। वर्ष 2001 के बाद आमिर खान ने लगभग चार वर्ष तक फिल्म इंडस्ट्री से दूरी बनायी रखी। वर्ष 2005 में आमिर ने मंगल पांडे से एक बार फिर से फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा। वर्ष 2007 में आमिर ने फिल्म निदेर्शन के क्षेत्र में भी कदम रख दिया और 'तारे जमीन पर' का निर्माण और निदेर्शन किया।

वर्ष 2008 में आमिर के सिने करियर की एक और सुपरहिट फिल्म 'गजनी' प्रदर्शित हुयी। इस फिल्म में आमिर खान के अभिनय के नये आयाम देखने को मिले। फिल्म से जुड़ा रोचक तथ्य है कि इस फिल्म के किरदार को निभाने के लिये आमिर ने अपने शरीर पर कड़ी मेहनत की और सिक्स पैक ऐब बनाया जो सिने दर्शको को काफी पसंद भी आया।

वर्ष 2009 में आमिर खान के सिने करियर की एक और सुपरहिट फिल्म 'थ्री इडियटस' प्रदर्शित हुयी। फिल्म ने टिकट खिड़की पर 202 करोड़ रूपये की शानदार कमाई की। थ्री इडियट 200 करोड़ कमाने वाली पहली फिल्म थी।

वर्ष 2008 में आमिर के सिने करियर की एक और सुपरहिट फिल्म 'गजनी' प्रदर्शित हुयी। फिल्म ने टिकट खिड़की पर 202 करोड़ रूपये की शानदार कमाई की। थ्री इडियट 200 करोड़ कमाने वाली पहली फिल्म थी।

वर्ष 2013 में आमिर खान के करियर की सबसे सुपरहिट फिल्म 'धूम 3' प्रदर्शित हुयी। धूम 3 ने टिकट खिड़की पर 280 करोड़ रूपये से अधिक की कमाई कर धूम मचा दी। वर्ष 2014 में आमिर खान की फिल्म पीके प्रदर्शित हुयी। पीके ने टिकट खिड्की पर 340 करोड़ रूपये से अधिक की कमाई कर नया इतिहास रच दिया है।

वर्ष 2016 में आमिर खान के करियर की सुपरहिट फिल्म 'दंगल' प्रदर्शित हुयी। नितेश तिवारी के निदेर्शन में बनी इस फिल्म में आमिर खान एक पहलवान के किरदार में नजर आये। यह फिल्म हरियाणा के पहलवान महावीर सिंह फोगट की जिंदगी पर आधारित है, जिन्होंने काफी विरोध के बावजूद अपनी दोनों बेटियों को रेसलिंग के क्षेत्र में उतारा।

फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर करीब 390 करोड़ रूपये की शानदार कमाई की है। वर्ष 2017 में आमिर खान ने 'सीक्रेट सुपरस्टार' का निमार्ण किया। फिल्म टिकट खिड़की पर हिट साबित हुयी है।


BY : Saheefah Khan




Loading...




Loading...