खेल - एशियाई खेल: बैडमिंटन के इतिहास में सिंधु ने लिखा नया अध्याय, रिकॉर्ड के साथ फाइनल में किया प्रवेश

एशियाई खेल: बैडमिंटन के इतिहास में सिंधु ने लिखा नया अध्याय, रिकॉर्ड के साथ फाइनल में किया प्रवेश



Posted Date: 27 Aug 2018

17
View
         

जकार्ता। भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने इंडोनेशिया के जकार्ता में जारी 18वें एशियाई खेलों में महिला एकल प्रतियोगिता में इतिहास रचते हुए फाइनल में प्रवेश कर लिया। सिंधु ने सेमीफाइनल मुकाबले में जापान की अकाने यामागुची को 21-17, 15-21, 21-10 से हराया। यह मुकाबला एक घंटा पांच मिनट तक चला।

पहले ही गेम से ही दोनों के बीच बराबरी की टक्कर देखी गई। अपनी चिर प्रतिद्वंद्वी के खेल से परिचित सिंधु ने इसका फायदा उठाते हुए उनके खिलाफ स्कोर 8-8 से बराबर किया और इसके बाद 13-9 से बढ़त ले ली। दूसरे सेट में दोनों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली। यामागुची अपनी फुर्ति से सिंधु को उनके हर हमले का जवाब दे रही थी। यामागुची ने अंत में वापसी करते हुए सिंधु को 21-15 से हराकर दूसरे गेम जीतकर 1-1 से बराबरी कर ली।

सिंधु ने तीसरे गेम में यामागुची पर अपना दबाव बनाने की कोशिश करते हुए 9-4 की बढ़त बनाई। जापानी खिलाड़ी के खिलाफ इस बढ़त को बनाए रखते हुए सिंधु ने तीसरा गेम 21-10 से जीता।

बता दे कि सिंधु एशियन गेम्स में बैडमिंटन सिंगल्स के फाइनल में पहुंचने वाली पहली खिलाड़ी बन गई हैं। 1962 से बैडमिंटन एशियन गेम्स का हिस्सा है। तब से लेकर अब तक भारत का कोई भी शटलर किसा भी कैटेगरी में ब्रॉन्ज मेडल से आगे नहीं बढ़ सका है। पीवी सिंधु की जीत के बाद यह पहला मौका होगा है जब एशियन गेम्स के इतिहास में भारत को सिल्वर मेडल हासिल होगा। यानी पीवी सिंधु ने भारतीय बैडमिंटन के इतिहास में एक और नया अध्याय लिख दिया।


BY : ANKIT SINGH


Loading...





Loading...
Loading...