राजनीति - टीडीपी ने मोदी पर कसा तंज तो बीजेपी ने चंद्रबाबू नायडू से पूछा सवाल, क्या गरीब होना अभिशाप?

टीडीपी ने मोदी पर कसा तंज तो बीजेपी ने चंद्रबाबू नायडू से पूछा सवाल, क्या गरीब होना अभिशाप?



Posted Date: 11 Feb 2019

2456
View
         

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के लिए लंबे समय से संसद में बहस कर रहे राज्य के मुख्यमंत्री और तेलगु देशम पार्टी (टीडीपी) के मुखिया चंद्रबाबू नायडू आंदोलनरत हैं। वह दिल्ली स्थित आंध्र प्रदेश भवन पर धरना दे रहे हैं। विपक्ष का भी उन्हें साथ मिल रहा है। इस बीच धरनास्थल पर लगी छोटी-छोटी तख्तियों पर लिखी बातों को लेकर टीडीपी और बीजेपी के बीच सियासी घमासान शुरु हो गया है।

दरअसल, चंद्रबाबू नायडू ने धरनास्थल पर अपने साथ प्रधानमंत्री मोदी को लेकर लिखी गईं तंज भरी तख्ती रखी थी। इनमें से एक पर लिखा था कि जिसके हाथ में चाय का जूठा कप देना था, उसके हाथ में जनता ने देश दे दिया। इसी को लेकर बीजेपी आईटी सेल के प्रभारी अमित मालवीय ने एक वीडियो ट्विटर पर शेयर किया और टीडीपी के समक्ष सवाल उठाया कि क्या पिछड़ी जाति का और गरीब होना अभिशाप है?

चाय वाला’ पर लंबे समय से चल रही है बहस

आपको बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनाव के समय भी कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के प्रधानमंत्री को लेकर जातिगत बयान दिया था। जिसे आधार बनाकर बीजेपी ने विपक्ष को जमकर निशाने पर लिया था। इसके बाद कांग्रेस ने दिग्गज नेता को पार्टी से निष्कासित भी किया। लेकिन आखिर में बीजेपी को ही इसका लाभ मिला था। वहीं अब लोकसभा चुनाव से पहले टीडीपी की ओर से प्रधानमंत्री के निजी जीवन पर टिप्पणी की गई है।

खबरों की मानें को प्रदर्शन के दौरान टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने पीएम और उनकी निजी जिंदगी की लेकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी खुद को चायवाला कहते हैं, लेकिन अपने सूटबूट को नहीं देखते हैं। नायडू ने प्रधानमंत्री की पत्नी पर भी टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के साथ उनकी पत्नी नहीं है। उन्होंने अपनी पत्नी तक को छोड़ दिया। उन्होंने कहा कि न तो आपके पास परिवार है, ना ही बेटा। क्या आपको फैमिली सिस्टम पर विश्वास नहीं है?

यह भी पढ़ें.. प्रिंयका की राजनीति में एंट्री पर भावुक हुए पति वाड्रा, कहा- ‘भ्रष्ट राजनीतिक माहौल है... कृपया उन्हें सुरक्षित रखें'

मोदी कई बार खुद को बता चुके चाय वाला

ज्ञात हो कि पीएम मोदी अक्सर खुद को ‘चाय वाला’ कहते रहे हैं। विरोधियों को निशाने पर लेते हुए वे कहते हैं, ‘एक चाय वाला देश का प्रधानमंत्री बन गया तो कांग्रेस समेत विपक्ष को अभी भी हैरानी है। पूरा विपक्ष एक चाय वाले को हराने के लिए महागठबंधन बनाने में जुट गया है।’ प्रधानमंत्री के इस बयान को विपक्ष के लोग भी कई बार निशाने पर ले चुके हैं। विपक्ष ने उनके चाय बेचने के दावे पर भी कई बार सवाल उठाए है।

यह भी पढ़ें.. एक महीने बाद भी नहीं बंटी सपा+बसपा में सीटें, प्रियंका के पावर में आने से बदली रणनीति?


BY : shashank pandey




Loading...




Loading...