आजमगढ़ - पुलिस को गाली देने वाले बीजेपी नेता हिरासत में, पार्टी ने किया छह वर्ष के लिए निष्कासित

पुलिस को गाली देने वाले बीजेपी नेता हिरासत में, पार्टी ने किया छह वर्ष के लिए निष्कासित



Posted Date: 05 Feb 2019

3507
View
         

आज़मगढ़। जब सत्ता का नशा सिर चढ़कर बोलने लगता है तो नेता कुछ भी बोलने से संकोच नहीं करते। विशेष रुप से अपनी पार्टी के सत्ता में होने पर नेता स्वयं का शासन समझने लगते हैं। उन्हें लगता है जो मर्ज़ी आये वे वह कर सकते हैं। यही हाल हुआ आज़मगढ़ के भाजपा नेता और भारतीय खाद्य निगम सलाहकार समिति के सदस्य रामविलास साहू का। एक चेन स्नैचिंग मामले में उन्होंने दारोगा को फोन कर गाली दे दी डाली जो उनके लिए मंहगी साबित हुई।

बता दें कि 25 जनवरी को एक चेन स्नैचिंग मामले में भाजपा नेता रामविलास साहू ने देवगांव कोतवाली के लालगंज चौकी इंचार्ज से फोन पर बात करते हुए अपशब्द कहे थें। इसका ऑडियो मीडिया में वॉयरल होने के बाद पुलिस की काफी फजीहत हो रही थी। पुलिस ने इस मामले में भाजपा नेता पर एफआईआर दर्ज किया था और उनकी तलाश चल रही थी।

यह भी पढ़ें.. जाती हुई सर्दी ने शुरु कर दी लुका-छिपी, सुबह पहले धूप निकली फिर कोहरे में लिपट गया पूरा शहर

मामला बढ़ता हुआ देख भाजपा नेता ने दिलेरी से प्रेस कांफेस कर चौकी इंचार्ज पर पहले अपशब्द कहने का आरोप लगाते हुए ऑडियो क्लीप जारी किया था जो तेज़ी से वायरल होने लगा। आखिरकार नगर के बवाली मोड़ स्थित रामविलास साहू के आवास से पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। माना जा रहा है पूछताछ के बाद पुलिस उन्हें जेल भेज देगी।

इसके अलावा भारतीय जनता पार्टी ने भी इस मामले को संज्ञान में लेते हुए रामविलास साहू को पूरे छह वर्ष के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है। वह छह साल तक पार्टी के सदस्य के तौर पर काम नहीं कर सकेंगे। हालांकि पार्टी के जिलाध्यक्ष जयनाथ सिंह का कहना है कि साहू को पार्टी ने ढाई साल पहले ही निष्कासित कर दिया था। उनका बीजेपी से कोई लेना देना नहीं है।

यह भी पढ़ें.. गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के बाद आज़मगढ़ हुआ ट्रांसफर, यहां भी विवादों में घिरने के कारण हटाए गए सीएमओ


BY : Saheefah Khan




Loading...




Loading...