राष्ट्रीय - जम्मू हमला : वारदात के पीछे था हिज़बुल का हाथ, गिरफ्तार आतंकी ने कबूला गुनाह

जम्मू हमला : वारदात के पीछे था हिज़बुल का हाथ, गिरफ्तार आतंकी ने कबूला गुनाह



Posted Date: 08 Mar 2019

349
View
         

जम्मू बस स्टैंड पर हुए ग्रेनेड हमले में मरने वालों की तादाद बढ़ गई है। हादसे में अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 31 लोग घायल हैं। इनमें से कुछ लोगों की हालत अब भी नाज़ुक बताई जा रही है। मालूम हो कि जम्मू बस स्टैंड के पास गुरुवार को एक खड़ी बस पर ग्रेनेड से हमला किया गया था। हमले में एक युवा की मौत हो गई थी, जबकि एक अन्य व्यक्ति ने शुक्रवार सुबह इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक, हमले को हिजबुल मुजाहिद्दीन ने अंजाम दिया है। ग्रेनेड फेंकने वाले आतंकी को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसका नाम यासिर भट्ट है।

हिज़बुल मुजाहिद्दीन ने कराया हमला

जम्मू के पुलिस महानिरीक्षक एमके सिन्हा ने बताया कि गिरफ्तार आतंकी हिजबुल मुजाहिद्दीन का है। पूछताछ के दौरान आतंकी ने कबूल है कि उसने यह हमला हिज्बुल कमांडर के कहने पर जम्मू बस स्टैंड पर बस में ग्रेनेड फेंका था। उन्होंने बताया कि ग्रेनेड बस के नीचे जाकर गिरा। यह ग्रेनेड हमला स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एसआरटीसी) की बस पर हुआ। बस पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। बस का ड्राइवर और कंडक्टर भी गंभीर जख्मी हुए हैं।

कश्मीर के बाद आतंकियों के निशाने पर जम्मू

गौरतलब है कि अभी तक आतंकी संगठन कश्मीर तक ही हमला कर रहे थे, लेकिन इस बार आतंकियों ने जम्मू को निशाना बनाया है। इतना ही नहीं सेना और पुलिस से आगे बढ़कर आतंकियों के निशाने पर आम इंसान भी आ रहे हैं। ऐसे में आतंकियों के इस गैर इरादे के पीछे बड़ी साजिश की बू आ रही है। इससे पहले पुलवामा आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हुए थे, जिसकी जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी।

यह भी पढ़ें.. हाफिज सईद को झटका, वैश्विक आतंकी सूची से नाम हटाने की अपील UN ने की खारिज

पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकियों ने किया ग्रेनेड हमला

गौरतलब हो कि गुरुवार सुबह ही उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा स्थित हंदवाड़ा में आतंकियों ने सुरक्षाबलों को निशाना बनाने की नाकाम कोशिश की थी। इस दौरान दहशतगर्दों ने लंगेट इलाके में 32 राष्ट्रीय राइफल्स की पेट्रोल पार्टी पर पहले ग्रेनेड किया। इसके बाद अंधाधुंध फायरिंग की। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया गया था।

यह भी पढ़ें.. शर्मनाक : राज्य में दुष्कर्म के लिए सबसे कठोर कानून, फिर भी ‘अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस’ से एक दिन पहले 4 साल की बच्ची से रेप


BY : shashank pandey




Loading...




Loading...