अंतरराष्ट्रीय - मुश्किल में Pak वज़ीर-ए-आज़म, अयोग्य करार देने के लिए हाई कोर्ट में याचिका दाखिल

मुश्किल में Pak वज़ीर-ए-आज़म, अयोग्य करार देने के लिए हाई कोर्ट में याचिका दाखिल



Posted Date: 09 Mar 2019

132
View
         

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के वज़ीर-ए-आज़म (प्रधानमंत्री) इमरान खान नए विवाद में घिर गए हैं। उनके खिलाफ ईमानदार और नेक न होने के आरोप लगाए गए हैं। यही नहीं उन्हें पीएम पद पर अयोग्य ठहराने को लेकर लाहौर हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई है।

इसमें दावा किया गया है कि प्रधानमंत्री ने 2018 में हुए आम चुनाव के दौरान नामांकन पत्र में अपनी पूर्व पत्नी से हुई कथित बेटी से अपना रिश्ता छिपाया था। शनिवार को हाई कोर्ट में इस याचिका को स्वीकार कर लिया गया है। अदालत सोमवार (11 मार्च) को इस मामले की सुनवाई करेगा।

याचिकाकर्ता का दावा

डॉन न्यूज के अनुसार, याचिकाकर्ता का दावा है कि इमरान खान ने 2018 के चुनाव के लिए दाखिल नामांकन दस्तावेजों में अपनी पूर्व पत्नी की एक बेटी से अपना रिश्ता छिपाया था। याचिका में लिखा है, इमरान ने नामांकन पत्रों में व्हाइट को अपने आश्रितों में शामिल नहीं किया और इस तरह उन्होंने संविधान के अनुच्छेद 62 और 63 का पालन नहीं किया है।

मालूम हो कि पाक संविधान के तहत संसद का सदस्य बनने की पहली शर्त होती है कि व्यक्ति 'सादिक और अमीन' (ईमानदार और नेक) हो।

व्हाइट को लेकर पहले भी उठ चुके हैं इमरान पर सवाल

बता दें, इमरान की पूर्व पत्नी अना लुइसा (सीता) व्हाइट की बेटी टिरियन व्हाइट हैं। कई बार इमरान पर यह आरोप लगता रहा है कि टिरियन इमरान की बेटी हैं, हालांकि उन्होंने इस दावे को खारिज कर दिया है।

यह भी पढ़ें.. एयर स्ट्राइक के सदमे से नहीं उभर पा रहा पाकिस्तान, बंद किए ‘आतंकी’ एयरपोर्ट

इससे पहले इसी साल 21 जनवरी को, इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने ऐसी ही एक याचिका को यह कहते हुए खारिज कर दिया था कि यह उनका निजी मामला है, इसलिए इस पर विचार नहीं किया जा सकता।

यह भी पढ़ें.. पाकिस्तान का नया पैंतरा, एयर स्ट्राइक को कहा इको टेरिज़्म, भारतीय पायलटों पर एफआईआर दर्ज


BY : shashank pandey




Loading...




Loading...