राष्ट्रीय - जम्मू-कश्मीर : आतंकियों के निशाने पर पुलिसकर्मियों के परिजन, 24 घंटों में 8 अगवा, हाई अलर्ट घोषित

जम्मू-कश्मीर : आतंकियों के निशाने पर पुलिसकर्मियों के परिजन, 24 घंटों में 8 अगवा, हाई अलर्ट घोषित



Posted Date: 31 Aug 2018

18
View
         

श्रीनगर। आतंकवाद से निपटना भारत के लिए दिनोंदिन एक बड़ी चुनौती बनता जा रहा है। मामले को लेकर बरती जा रही नरमी के चलते आतंकियों का दुस्साहस फिलहाल अपनी चरमसीमा पर है। जिसके चलते अब इनके निशाने पर सेना व पुलिस के जवान नहीं बल्कि इनके परिजन हैं। शुक्रवार तक आतंकियों ने पुलिसकर्मियों के 8 रिश्तेदारों को अगवा कर लिया है। अगवा किए गए इन सभी 8 लोगों में पुलिस वालों के भाई-बेटे शामिल हैं। अपहरण की घटनाओं के चलते जिले में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। पुलिस ने मामले की छानबीन शुरु कर दी है।

सैयद सलाहुद्दीन के दूसरे बेटे को एनआई द्वारा गिरफ्तार करने के बाद शुरु हुआ यह सिलसिला

आतंकियों द्वारा पुलिसकर्मियों के परिजनों के अपहरण का यह सिलसिला वांटेड आतंकी सैयद सलाहुद्दीने के दूसरे बेटे को एनआई के द्धारा गिरफ्तार करने के बाद शुरु हुआ है। जिन पुलिसकर्मियों के रिश्तेईदार अगवा किए गए हैं वे कुलगाम, पुलवामा, बडगाम, त्राल, अरवानी में तैनात हैं। इनमें एसएचओ नाजिर अहमद के भाई आरिफ, डीएसपी एजाज के भाई, अरवानी के पुलिसकर्मी का बेटा, पुलिसकर्मी रफीक अहमद राठर का बेटा, एएसआई बशीर अहमद का बेटा यासिर अहमद, पुलिसकर्मी मोहम्मीद मकबूल भट्ट के बेटे जुबैर अहमद, अब्दुटल सलाम का बेटा समर अहमद राठर शामिल हैं।

इनमें पुलिस उपाधीक्षक का भाई भी शामिल है। इसी घटना में गांदरबल जिले से अगवा किए गए पुलिसकर्मी के परिजन को आंतकवादियों के बुरी तरह पिटाई करने के बाद छोड़ दिया है।

यह भी पढ़ें : कश्मीर से भी अहम पाकिस्तान के लिए ये समझौता, नहीं बनी बात तो बूंद-बूंद के लिए मचेगी चीख-पुकार

पुलिस ने फिलहाल इस मामले में कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है और कहा है कि वह अगवा करने संबंधी रिपोर्टों का पता लगा रही है।

यह भी पढ़ें : उस शख्स की कहानी जिसने बाॅलीवुड में बनाया मुकाम, दिए कभी न भूल पाने वाले यादगार सितारे


BY : INDRESH YADAV


Loading...





Loading...
Loading...