राष्ट्रीय - हैरतअंगेज: पंजाब में 118 साल की महिला को ऑपरेशन कर लगाया गया पेसमेकर, दर्ज होगा वर्ल्ड रिकॉर्ड!

हैरतअंगेज: पंजाब में 118 साल की महिला को ऑपरेशन कर लगाया गया पेसमेकर, दर्ज होगा वर्ल्ड रिकॉर्ड!



Posted Date: 08 Mar 2019

3404
View
         

लुधियाना। पंजाब के एक अस्पताल ने दावा किया है कि उसने भारत की सबसे उम्रदराज महिला का ऑपरेशन कर उसके शरीर में पेसमेकर लगाया। वहां के डॉक्टरों ने इस महिला का नाम गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करने की अपील भी की है।

यह अनोखा केस लुधियाना के एसपीएस अस्पताल का है। जहां 118 साल की महिला का आपरेशन कर पेसमेकर लगाया गया। डॉक्टर कूका के मुताबिक करतार की तबियत अचानक 24 फरवरी की रात ख़राब हो गई, जिसके बाद उनके परिजनों ने करतार को अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टर द्वारा चेक करने पर पता चला कि उनकी हार्टबीट में समस्या है। डॉक्टरों ने हार्ट बीट बढ़ाने के लिए टेम्परेरी पेसमेकर लगाया।

डॉक्टरों ने बताया कि यह अब तक भारत के डॉक्टर द्वारा की गई सर्जरी में सबसे जटिल सर्जरी थी जो बहुत ही सुरक्षित तरीके से की गई। डॉक्टर की मांग है कि इस सर्जरी का नाम भी गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अंकित हो।

जानकारी के अनुसार, गिनीज बुक ऑफ वर्ल्‍ड रिकॉर्ड में अब तक 107 साल उम्र के मरीज को पेस मेकर लगाने का रिकार्ड दर्ज है। एसपीएस हॉस्पिटल के सीनियर कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. रवनिंदर सिंह कूका ने बताया कि एक डॉक्टर के लिए सभी मरीज खास होते हैं, लेकिन कभी ऐसा मरीज भी आ जाता है जो उसके लिए किसी चैलेंज से कम नहीं होता। फिरोजपुर के डॉ. कमल बागी की ओर से करतार काैर कंप्लीट हार्ट ब्लॉक, लो हार्ट बीट और लो ब्लड प्रेशर के साथ भेजी गईं।

अस्पताल के डॉक्टर ने बताया कि महिला फिरोजपुर की रहने वाली है। उनके परिवार का भी दावा है कि करतार उम्र 118 वर्ष है। करतार ने खुद माना हैं कि वे 118 साल की है। आजादी के पहले वे ब्रिटिश हुकूमत में सरकारी नौकरी करती थी।

करतार के परिवार के लोगों ने बताया कि उनका छोटा भाई भी है, जिसकी उम्र 116 साल है। करतार से उम्र में सिर्फ 2 साल छोटे हरनाम ब्रिटिश आर्मी से रिटायर हुए थे।

भगोड़े नीरव मोदी पर कार्रवाई शुरू, डायनामाइट से उड़ाया गया अलीबाग स्थित अवैध बंगला

सीनियर कार्डियोलाजिस्ट डॉक्टर रविन्द्र सिंह कूका ने बताया कि करतार की उम्र के दो-तीन साक्ष्य मिलते हैं। सबसे महत्वपूर्ण साक्ष्य ये है कि उनकी बेटी की उम्र ही 88 साल है।

फिलहाल ऑपरेशन के बाद डॉक्टरों का कहना है कि अब इनकी तबियत में काफी सुधार है। करतार अब अपने परिवार के लोगों से बात कर रही हैं। वहीं लुधियाना के एसपीएस हॉस्पिटल के डॉक्टर ने भी अपना नाम वर्ल्ड रिकॉर्ड बुक में दर्ज करने की मांग की है।

एयर इंडिया का बड़ा फैसला, महिला दिवस के मौके पर देश की हवाई सेवा महिलाओं के हाथों में


BY : Ankit Singh




Loading...




Loading...