राजनीति - भाजपा राज हिलाने को पूरे फॉर्म में आए राहुल, मोदी को बताया महज चेहरा कहा- ये कर रहे कंट्रोल

भाजपा राज हिलाने को पूरे फॉर्म में आए राहुल, मोदी को बताया महज चेहरा कहा- ये कर रहे कंट्रोल



Posted Date: 07 Feb 2019

1917
View
         

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव की नजदीकियों के साथ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी पूरे फॉर्म में नज़र आ रहे हैं। उन्होंने गुरुवार को दिल्ली में ताल ठोकते हुए कहा कि वे (राहुल) ना केवल भाजपा की सत्ता को केंद्र से बाहर का रास्ता दिखाएंगे बल्कि फ्रंटफुट पर भी नज़र आएंगे। उन्होंने दावा किया कि भाजपा की असर हकीकत अब सबके सामने उजागर हो चुकी है। जिस 56 इंच की छाती का दम भरते हुए उन्होंने (भाजपा) 15 सालों तक देश पर राज करने का दम भरा था, कुछ ही महीनों में वो गुमान भी हवा हो जाएगा।

इतना ही नहीं अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी तो केवल चेहरा मात्र हैं, कंट्रोल संघ के हाथों में है। आज नरेंद्र मोदी के चेहरे में घबराहट देखने को मिलती है, उनके चेहरे में डर देखने को मिलता है।

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी की सच्चाई कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने ही देश के सामने रखी है। 2019 में कांग्रेस पार्टी नरेंद्र मोदी, बीजेपी और संघ को हराकर रहेगी।

खबरों के मुताबिक़ दिल्ली के जवाहर लाल नेहरु स्टेडियम में कांग्रेस का अल्पसंख्यक मोर्चा सम्मेलन हुआ। अल्पसंख्यक मोर्चा के सम्मेलन में पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला।

उन्होंने कहा कि मोदी जी को पता लग गया है कि हिंदुस्तान को बांटने से, नफरत फैलाने से राज नहीं किया जा सकता है। प्रधानमंत्री सिर्फ देश को जोड़ने का काम करेगा, अगर ऐसा नहीं होगा तो प्रधानमंत्री हटा दिया जाएगा।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पहले कहा जाता था कि मोदी की छाती 56 इंच की है और वह 15 साल तक राज करेंगे। लेकिन आज मोदी की प्रतिष्ठा की धज्जियां उड़ गई हैं।

राहुल ने इस दौरान चौकीदार चोर है के नारे भी लगवाए। उन्होंने कहा कि देश के चौकीदार आज मुझसे गुस्सा हैं, वो कहते हैं कि आपने हमें बदनाम कर दिया। राहुल ने कहा कि हम सिर्फ एक चौकीदार की बात करते हैं जो चोर है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि लड़ाई दो विचारधारा के बीच में है, एक विचारधारा कहती है कि ये देश सबका है और दूसरी कहती है कि ये देश सिर्फ एक समुदाय का है। उन्होंने कहा कि देश के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना आजाद थे, स्पेस प्रोग्राम की नींव विक्रम साराभाई ने रखी थी जो जैन समुदाय से थे। उन्होंने कहा कि अगर आर्थिक ग्रोथ की बात करें तो मनमोहन सिंह की बात करनी ही पड़ेगी। राहुल बोले कि अमित शाह कहते हैं कि ये देश सोने की चिड़िया है यानी उनके लिए देश एक प्रोडक्ट है। इस सोने का फायदा देश के कुछ लोगों को मिलना चाहिए।

उन्होंने कहा कि संघ के लोगों ने चुनाव आयोग, सुप्रीम कोर्ट समेत सभी संस्थानों को खत्म करने का है, वो चाहते हैं कि वो देश को नागपुर से चलाना चाहते हैं। इस दौरान राहुल ने संघ प्रमुख मोहन भागवत पर तंज भी कसा, राहुल ने भाषण के दौरान जनता से पूछा... क्या नाम है उनके बॉस का... मोहन भागवत। राहुल बोले कि मोहन भागवत पूरे देश को पीछे से चलाना चाहते हैं। नरेंद्र मोदी चेहरा, ये रिमोट कंट्रोल से देश को चलाना चाहते हैं।

यह भी पढ़ें : लोकसभा चुनावों से पहले बढ़ीं भाजपा की मुश्किलें, केंद्र के इस कदम के आगे रोड़ा बन खड़े हुए दो ‘अपने’

राहुल ने कहा कि मोदी सरकार के राज में सुप्रीम कोर्ट के जज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहते हैं कि उन्हें काम नहीं करने दिया जा रहा है। ये सोचते हैं कि देश नीचे है और ये ऊपर, लेकिन तीन महीने में ही देश इन्हें सच बता देगा।

कांग्रेस अध्यक्ष बोले कि मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ ने बताया कि वहां बीजेपी के राज में एक मंत्रालय बनाकर 800 करोड़ रुपये संघ के लोगों को दिए गए। उन्होंने कहा कि देश के अधिकारियों को याद रखना चाहिए कि वह देश के लिए काम कर रहे हैं, ना कि संघ के लिए।

यह भी पढ़ें : राहुल गांधी का भाजपा पर सीधा हमला, भरी सभा में पीएम मोदी पर की यह टिप्पणी


BY : Ankit Rastogi




Loading...




Loading...