राष्ट्रीय - CBI अफसर के तबादले पर सुप्रीम कोर्ट ने नागेश्वर राव को फटकारा, कहा- कोर्ट के साथ किया खिलवाड़

CBI अफसर के तबादले पर सुप्रीम कोर्ट ने नागेश्वर राव को फटकारा, कहा- कोर्ट के साथ किया खिलवाड़



Posted Date: 07 Feb 2019

3371
View
         

नई दिल्ली। बिहार के बहुचर्चित मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस की जांच कर रहे सीबीआई आधिकारी एके शर्मा के तबादले को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने जांच एजेंसी के तत्कालीन अंतरिम निदेशक एम. नागेश्वर राव को फटकार लगाई है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने गुरुवार को मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि आपने (नागेश्वर राव) कोर्ट से खिलवाड़ किया है। हम इसे काफी गंभीरता से लेने जा रहे हैं। आपने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के साथ खेल किया है। भगवान ही आपको बचाएं।’

दरअसल, अंतरिम निदेशक होने के चलते नागेश्वर राव संस्थान से जुड़े बड़े फैसले नहीं ले सकते थे लेकिन उन्होंने एक अफसर का तबादला कर दिया था। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें फटकारते हुए कहा है कि उन्होंने ऐसा कैसे किया। वो ऐसा नहीं कर सकते थे। कोर्ट ने इसपर सुनवाई के लिए नागेश्वर राव और एक अन्य अधिकारी को कोर्ट के सामने 12 फरवरी को पेश होने को भी कहा है।

बता दें कि बीते दिनों जब अचानक सीबीआई के दो बड़े अधिकारी निदेशक आलोक वर्मा और विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के बीच मतभेद और आरोपों का सिलसिला बढ़ा तो सरकार ने दोनो अधिकारियों को छुट्टी पर बेज दिया था।

इसके बाद सरकार ने निदेशक वर्मा के स्थान पर एम. नागेश्वर राव को सीबीआई के अंतरिम निदेशक पद की जिम्मेदारी सौंपी थी। इस दौरान ही उन्होंने एके शर्मा का तबादला किया था। एके शर्मा उस समय बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस की जांच कर रहे थे।

यह भी पढें.. मुजफ्फरपुर शेल्टर होम प्रकरण : सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार को जमकर लताड़ा, कहा- अब बहुत हो चुका, केस ट्रांसफर

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने अपने पहले के आदेशों का संदर्भ दिया जिनमें सीबीआई से बिहार आश्रय गृह मामलों की जांच करने वाली टीम में शामिल अधिकारी एके शर्मा को नहीं हटाने को कहा गया था। चीफ जस्टिस ने कहा कि पिछली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने पूरे मामले की जांच होने तक किसी भी अधिकारी के तबादला नहीं करने को लेकर आदेश दिया था। तो फिर ऐसा क्यों किया गया, यह आदेश का उल्लंघन है।

यह भी पढ़ें.. योगी सरकार ने पेश किया 4.79 लाख करोड़ का बजट, गो कल्याण के लिए 6 सौ करोड़ आवंटित


BY : shashank pandey




Loading...




Loading...