राष्ट्रीय - PM के खिलाफ बिना इजाजत विज्ञापन में नाम का इस्तेमाल कराने का आरोप, TMC विधायक ने दर्ज कराई शिकायत

PM के खिलाफ बिना इजाजत विज्ञापन में नाम का इस्तेमाल कराने का आरोप, TMC विधायक ने दर्ज कराई शिकायत



Posted Date: 09 Feb 2019

5981
View
         

बैंगलुरु। पिछले कुछ दिनों से पश्चिम बंगाल सरकार और केंद्र में सत्ता में काबिज मोदी सरकार के बीच आपसी भिड़त जोरों पर हैं। एक ओर जहां तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख ममता बनर्जी ने बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया हुआ है, तो वहीं दूसरी तरफ अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जोड़ी ने भी आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र बंगाल में भगवा झंडा फहराने का संकल्प ले लिया है।

इस बावत मोदी और उनके दल के शीर्ष नेता पश्चिम बंगाल में ताबड़तोड़ रैलिया कर रहे हैं। गत शुक्रवार को ही पीएम मोदी ने प्रदेश के जलपाईगुड़ी का दौरा किया, जहां उन्होंने राजमार्ग 31D के फालाकाटा-सलसलाबाड़ी सेक्शन के बीच चार लेन की सड़क परियोजना की आधारशिला रखा। लेकिन इसको लेकर अब विवाद शुरु हो गया है।

टीएमसी नेता ने प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत

दरअसल, टीएमसी विधायक और सिलीगुड़ी जलपाईगुड़ी विकास प्राधिकरण के चेयरमैन सौरव चक्रवर्ती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है। अपनी शिकायत में विधायक ने आरोप लगाया है कि आधारशिला कार्यक्रम में उनका और अन्य पार्टियों के सांसदों का नाम इस्तेमाल किया गया, जबकि इसके लिए उनसे सलाह भी नहीं ली गई। विधायक ने इस बावत नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) के खिलाफ भी एक शिकायत दर्ज कराई है।

मेरी छवि को धूमिल करने का प्रयास- सौरव

जलपाईगुड़ी के कोतवाली पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई शिकायत में विधायक ने कहा कि एक अखबार में उनकी तस्वीर गलत तरीके से प्रकाशित की गई, जिसमें लिखा था कि वो राष्ट्रीय राजमार्ग 31D की आधारशिला के मौके पर सम्मानित अतिथि होंगे।

यह भी पढ़ें.. सौंदर्यीकरण का गज़ब फार्मूला, चौराहे पर लगवाई 17 फीट की अनोखी कुर्सी, स्टेज से 8 लाख का सामान चोरी

विधायक ने कहा कि इसके लिए मुझसे न किसी ने व्यक्तिगत संपर्क किया और न ही कोई लिखित आमंत्रण आया। सबसे बड़ी बात यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि जनता के बीच स्वीकार्य नहीं है। उनके साथ मेरा नाम छापकर मेरी सामाजिक और राजनीतिक प्रतिष्ठा को धूमिल करने का प्रयास किया गया है। इस बाबत कार्रवाई की जाए।

यह भी पढ़ें.. यूपी और उत्तराखंड में जहरीली शराब का कहर जारी, मरने वालों की संख्या बढ़कर 59 हुई


BY : shashank pandey




Loading...




Loading...