अंतरराष्ट्रीय - चीन और अमोरिका में छिड़ी जंग से मालामाल होगा भारत, इन देशों की भी निकलेगी लॉटरी

चीन और अमोरिका में छिड़ी जंग से मालामाल होगा भारत, इन देशों की भी निकलेगी लॉटरी



Posted Date: 06 Feb 2019

1881
View
         

जिनेवा। भारतीय अर्थव्यवस्था को आने वाले समय में काफी फायदा होने वाला है और इसकी एकमात्र वजह होगी चीन और अमेरिका के बीच चल रहा व्यापार युद्ध। यह बात एक अध्ययन में सामने आई है। जो कि संयुक्त राष्ट्र के द्वारा कराया गया है। इस अध्ययन के मुताबिक इस व्यापार युद्ध के कारण देश के निर्यात में 3.5 प्रतिशत की तेजी आएगी। हालांकि भारत से भी ज्यादा फायदा यूरोपीय संघ को होगा। जिसका कारोबार लगभग 70 अरब डॉलर और ज्यादा बढ़ जाएगा।

यह रिपोर्ट बीते सोमवार को प्रकाशित की गई है। यूएन कॉन्फ्रेंस ऑन ट्रेड एंड डिवेलपमेंट नाम से प्रकाशित इस रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्तमान समय में पेइचिंग और वाशिंगटन के बीच टैरिफ युद्ध चल रहा है। जिसका फायदा अन्य देशों को पहुंचेगा। जिसमें भारत का नाम मुख्य रूप से शामिल है। क्योंकि भारतीय अर्थव्यवस्था पूरी दुनिया में लगातार बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है। वहीं अन्य देशों में ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, फिलीपींस और पाकिस्तान समेत वियतनाम शामिल हैं।

यह रिपोर्ट ‘द ट्रेड वार्स : द पेन एंड द गेन’ के शीर्षक से प्रकाशित की गई है। अध्ययन के मुताबिक यूरोपीय संघ को जहां 70 अरब डॉलर का अतिरिक्त निर्यात मिलेगा। तो वहीं जापान, कनाडा और मैक्सिको को भी 20-20 अरब डॉलर के निर्यात का फायदा होगा।  इस व्यापार युद्ध का फायदा मुख्य रूप से उन देशों को मिलेगा, जो कि अधिक प्रतिस्पर्धी हैं। 

यह भी पढ़ें : दुनिया में बढ़ा भारत का कद, ISRO ने विदेशी धरती से बनाया नया कीर्तिमान

जानिए क्या है अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध

यह ट्रेड वार उस समय शुरू हुआ। जब चीन से अमेरिका में आयात होने वाले स्टील और एल्यूमिनियम के सामानों पर अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने भारी टैरिफ लगाने का ऐलान कर दिया था। इसके बाद चीन ने भी अपने यहां आयात होने वाले अमेरिकी सामानों पर भारी टैरिफ लगाना शुरू कर दिया। जिसके बाद यह धीरे-धीरे ट्रेड वार में बदल गया। अब रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका और चीन की इस जंग का फायदा प्रतिस्पर्धी देशों की अर्थव्यवस्था को मिलेगा।

यह भी पढ़ें : राहुल गांधी को पसंद नहीं आया पीएम मोदी के लिए यह सम्मान, दे डाली इतनी बड़ी नसीहत


BY : Akhilesh Tiwari




Loading...




Loading...