आजमगढ़ - आज़मगढ़ की ब्लैक पॉटरी अब ज्वैलरी की बढ़ाएगी शान, डिज़ाइनर पारुल अग्रवाल ने दिलाई पहचान

आज़मगढ़ की ब्लैक पॉटरी अब ज्वैलरी की बढ़ाएगी शान, डिज़ाइनर पारुल अग्रवाल ने दिलाई पहचान



Posted Date: 08 Feb 2019

3908
View
         

आज़मगढ़। आज़मगढ़ की ब्लैक पॉटरी की कला यूं तो दुनिया भर में मशहूर है अब इसमें प्रसिद्धि का एक और रिकार्ड जुड़ गया है। यह पॉटरी कला अभी तक तो शोपीस के रुप में लोगों की पसंद थी लेकिन इस बार आभूषण के रुप में महिलाओं की पसंद बनने को बेताप है क्योंकि अब यह नग के रुप में ज्वैलरी की खूबसूरती को चार चांद लगाएगी।

आजमगढ़ नगर के रैदोपुर निवासी क्राफ्ट डिजाइनर पारुल अग्रवाल के प्रयास से। वह दिन दूर नहीं जब ब्लैक पॉटरी जिले ही नहीं देश-विदेश की महिलाओं के गले व कान की शोभा बढ़ाएगी। भारतीय शिल्प संस्थान (आइआइसीडी) जयपुर से क्राफ्ट डिजाइनिंग में डिप्लोमा करने वाली पारुल अग्रवाल ब्लैक पॉटरी उत्पाद को एक अलग रूप में पहचान दिलाने के लिए छह माह तक क्राफ्ट ज्वैलरी की डिजाइनिंग की।

यह भी पढ़ें.. 11 फरवरी से शुरु हो रही मदरसा बोर्ड की परीक्षाएं, नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए शासन ने कसी कमर

संस्था के माध्यम से इंडिया स्टोरी कोलकाता में दिसंबर 2018 को आयोजित क्राफ्ट मेले में प्रतिभाग करने का सुनहरा अवसर मिला जहां इन्होंने महिलाओं के हाथ के रिंग, कान की बाली व गले के हार में ब्लैक पॉटरी उत्पाद को कैसे पिरोया जा सकता है, इसको दर्शाया। प्रोत्साहन मिलने के बाद 'काबिश' (तरल काली मिट्टी) नाम से ज्वेलरी की ब्रांड लांच किया।

एक अलग तरह की डिजाइन वाले आभूषण की पहचान बनते देर नहीं लगी। नतीजा 31 जनवरी को जीओ गार्डन मुंबई में आयोजित लक्मे फैशन वीक में चयन कर लिया गया, जहां रैंप पर एक से एक एक लगभग 25 मशहूर मॉडलों ने आभूषणों को पहन कर रैंप पर कैटवॉक किया। मॉडल सपना भवानी व शो-स्टॉपर कबीर चौधरी ने काफी तारीफ की।

यह भी पढ़ें.. आज़मगढ़ की शान माने जाने वाले शायर कैफी आज़मी की शख्सियत से रुबरु होगी दुनिया


BY : Saheefah Khan




Loading...




Loading...