अंतरराष्ट्रीय - अलग है यहां के स्कूल का नजारा, यहां पढ़ने वाले बच्चों को किताबों से पहले दिखाना होता है पासपोर्ट

अलग है यहां के स्कूल का नजारा, यहां पढ़ने वाले बच्चों को किताबों से पहले दिखाना होता है पासपोर्ट



Posted Date: 08 Feb 2019

4121
View
         

वाशिंगटन। क्या आपने कभी ऐसा सुना है कि किसी देश में छोटे-छोटे बच्चों को स्कूल में पढ़ने के लिए किताबों से पहले पासपोर्ट दिखाना पड़ता हो। यह बात सुनने में जरूर अजीब लगेगी लेकिन यह बिल्कुल सच है। अमेरिका के कोलंबस एलीमेंट्री स्कूल का यही नजारा है। यहां आने वाले हर बच्चे को स्कूल में किताबों और अपनी कॉपियों से पहले पासपोर्ट दिखाना होता है। क्योंकि यहां पर हर रोज छोटे छोटे बच्चे इंटरनेशनल बॉर्डर पार करके आते हैं।

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इस स्कूल में कुल 600 बच्चे पढ़ते हैं लेकिन इनमें से कुल 420 बच्चे हर रोज बॉर्डर पार करके पढ़ने आते हैं। यह बच्चे स्कूल आते ही अपने बैग से कॉपी और किताब निकालने से पहले पासपोर्ट निकालते हैं। दरअसल मेक्सिको के प्योर्तो पालोमस में बहुत से ऐसे बच्चे हैं, जिनका जन्म तो अमेरिका में हुआ है लेकिन यह जगह मेक्सिको में पड़ती है। जिसकी वजह से इन बच्चों या फिर यहां के किसी भी नागरिक को अमेरिका में जाने के लिए पासपोर्ट दिखाना पड़ता है।

यह भी पढ़ें : किडनी के मरीजों को वैज्ञानिकों ने दी बड़ी सौगात, अब नहीं होगी डोनर की जरूरत

यहां के बच्चे अपने साथ हर रोज पासपोर्ट भी ले जाते हैं। क्योंकि अमेरिका की सीमा पर पहुंचने से पहले इन्हें कस्टम क्लियरेंस के लिए अपना पासपोर्ट दिखाना पड़ता है। इसके बाद ही वह अमेरिका की सीमा में दाखिल हो पाते हैं। इसके बाद स्कूल की बस सीमा के पास वाले बस स्टॉप पर आती है और यह बच्चे बस के जरिए फिर स्कूल तक पहुंचते हैं। हालांकि यह बच्चे बस में चढ़ने से पहले ही अपना पासपोर्ट अपने पैरेंट्स को दे देते हैं, जिससे वह कहीं खो न जाए। बताते चलें कि यहां के लोग अपने बच्चों को हर रोज बॉर्डर पार करवाकर इसलिए अमेरिका पढ़ने भेजते हैं, जिससे उन्हें अच्छी शिक्षा मिल सके।

यह भी पढ़ें : इस युवक की बहादुरी की दुनिया हुई कायल, मामला जान आप भी रह जाएंगे दंग


BY : Akhilesh Tiwari




Loading...




Loading...