विशेष - भारत का एकमात्र सितार वादक, जिसे राष्ट्रपति से मिला ‘आफ़ताब-ए-सितार’

भारत का एकमात्र सितार वादक, जिसे राष्ट्रपति से मिला ‘आफ़ताब-ए-सितार’



Posted Date: 13 Mar 2019

24
View
         

विलायत ख़ां का नाम 28 अगस्त, 1928 बंगाल में हुआ था। विलायत ख़ां भारत के प्रसिद्ध सितार वादक थे, जिन्होंने अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भी बहुत ख्याति प्राप्त की थी। उस्ताद विलायत ख़ां की पिछली कई पुश्तें सितार वादन से जुड़ी रही थीं।

उनके पिता इनायत हुसैन ख़ां से पहले उस्ताद इमदाद हुसैन ख़ां भी जाने-माने सितार वादक रहे थे। विलायत ख़ां ने सितार वादन की अपनी अलग गायन शैली विकसित की थी, जिसमें श्रोताओं पर गायन का अहसास होता था। उनकी कला के सम्मान में राष्ट्रपति फ़खरुद्दीन अली अहमद ने उन्हें ‘आफ़ताब-ए-सितार’ का सम्मान दिया था। ये सम्मान पाने वाले वे एकमात्र सितार वादक थे।

आरम्भ में विलायत ख़ां का झुकाव गायन की ओर ही था, किन्तु मां की प्रेरणा ने ही उन्हें अपनी खानदानी परम्परा निभाने के लिए प्रेरित किया। 13 मार्च 2004 को मुंबई में इनकी मृत्यु हो गई।

13 मार्च की महत्त्वपूर्ण घटनाएं :

1997 - सिस्टर निर्मला का चयन नेता के रूप में ईन्डियन मिशनरीज ऑफ चैरिटी में मदर टेरेसा द्वारा किया गया।

1999 - शेख़ हमाज बिन ईसा अल ख़लीफ़ा बहरीन के नये शासक बने, 23 वर्षों के अंतराल के बाद श्रीलंका सरकार ने हत्या एवं मादक द्रव्य तस्करी सदृश अपराधों के लिए मृत्युदंड की सज़ा पुन: बहाल करने का निश्चय किया।

2002 - राबर्ट मुगावे पुन: जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति निर्वाचित, पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ़ की जापान यात्रा प्रारम्भ, सी.टी.बी.टी. पर हस्ताक्षर के लिए समय मांगा।

2003 - इराक पर ब्रिटेन के प्रस्तावों को फ़्रांस ने नामंजूर किया।

2008 - राज्यपाल ने खाद्य सुरक्षा और मानक संशोधन विधेयक, 2008 को पारित किया। 'हिन्दुस्तान टाइम्स' और पाकिस्तान के अखबार 'डॉन' को पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए कुलिश सम्मान प्रदान किया गया।

नासा का अंतरिक्ष यान एंडेवर सकुशल अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर पहुँचा। सैक्स स्कैण्डल में फंसे न्यूयार्क के गवर्नर एलिमट स्पित्जर ने अपने पद से इस्तीफ़ा देने की घोषणा की।

2009 - सार्क साहित्योत्सव आगरा में शुरू हुआ।

2018 - छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों के हमलें में केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 9 जवानों की मौत।

13 मार्च को जन्मे व्यक्ति :

1899 - बुर्गुला रामकृष्ण राव, आंध्र प्रदेश के राजनैतिक नेता।

1971 - आत्मा रंजन , हिंदी के प्रसिद्ध कवि।

1980 - वरुण गांधी, एक युवा राजनेता।

13 मार्च को हुए निधन :

1800 - नाना फड़नवीस, एक मराठा राजनेता।

1996 - शफ़ी ईनामदार, हिन्दी फ़िल्मों के अभिनेता।

2004 - विलायत ख़ाँ - भारत के प्रसिद्ध सितार वादक

13 मार्च के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव :

गज दिवस।


BY : Yogesh




Loading...




Loading...