राजनीति - लोकसभा चुनाव में दिखेगा राहुकाल का असर, ज्योतिषों ने की यह भविष्यवाणी

लोकसभा चुनाव में दिखेगा राहुकाल का असर, ज्योतिषों ने की यह भविष्यवाणी



Posted Date: 11 Mar 2019

13
View
         

नई दिल्ली। कल शाम चुनाव आयोग की आगामी लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही राजनीतिक गलियारों में चुनावी जंग की तैयारियां शुरु हो चुकी हैं। सभी पार्टियां और दावेदार हर प्रकार की सतर्कता के साथ फूंक फूंक कर कदम आगे रख रहे हैं। ऐसे ज्योतिषों से भी सलाह मशिवरे किए जा रहे हैं। ज्योतिषों की मानें तो इसमय क्षितिज पर सिंह राशि उदित थी। चंद्रमा मेष राशि में विद्यमान है। दक्षिण भारत में विशेष मान्य राहु काल भी बना हुआ था।

जिससे साफ संकेत मिलते हैं कि आगामी लोकसभा चुनाव कई आरोप-प्रत्यारोप और आशंकाओं से ग्रस्त रहने वाला है। लग्न राशि स्थिर स्वभाव रखती है। स्वामी सूर्य है जो लग्नचक्र में वर्गात्तम है। जिससे स्पष्ट सकेंत मिलते हैं कि प्रशासन चुनाव प्रक्रिया पर हावी रहने वाला है। इससे शासन-प्रशासन के सहयोगियों को राहत मिलेगी। विरोधी को संघर्ष करना होगा।

अतः चुनाव में व्यवधान की सोच रखने वाले शांत रहें। यही उनके लिए अच्छा है। हालांकि राहुकाल और अग्नितत्व राशियों के प्रभाव से कई प्रक्रियागत व्यवधान आना तय है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार घोषणा के दौरान चंद्रमा का केतु के नक्षत्र अश्विनी में संचरण था। इसका प्रभाव यह तय होगा कि चुनाव पर जन भावनाओं का गहरा प्रभाव रहेगा। जो भी दल और गठबंधन सत्ता में आएगा अच्छा बहुमत लेकर आएगा।

शानि-केतु विद्या-बुद्धि के भाव में होने से उसे कमज़ोर कर रहे हैं। तार्किकता की अपेक्षा अफवाहों का हावी होना अकसर बना रहेगा। ऐसे में जनता के मूड को समझना किसी भी सर्वे और चुनावी विश्लेषक के लिए दुष्कर होगा। चुनाव परिणाम निश्चित रुप से अप्रत्याशित होंगे।

राहुकाल प्रमुखतः दक्षिण भारत में विचारा जाता है। इस दौरान यात्रा से विशेषतः बचा जाता है। चुनाव तारीखों की घोषणा का समय पूर्व निर्धारित था। ऐसे में राहुकाल का दोष कम हो जाता है। इसके बावजूद मतदान प्रक्रिया के दौरान अप्रत्याशित अड़चनों के आने की आशंका प्रबल नज़र आती है।


BY : Saheefah Khan




Loading...




Loading...