राष्ट्रीय - पटाखों के शोर में खो गए सुप्रीम कोर्ट के नियम, दिवाली की अगली सुबह स्थिति बदतर

पटाखों के शोर में खो गए सुप्रीम कोर्ट के नियम, दिवाली की अगली सुबह स्थिति बदतर



Posted Date: 08 Nov 2018

42
View
         

नई दिल्ली। देश की राजधानी में हवा की खराब गुणवत्ता को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने दिवाली पर पटाखों को लेकर एक विशेष गाइडलाइन जारी की थी। जिसे दिल्ली पुलिस ने खुद शहर में हिन्दी और अंग्रेजी में चस्पा किया था। इस गाइडलाइन में पर्यावरण का ध्यान रखने के लिए कई ज़रूरी बातें दर्ज थीं।

उम्मीद की जा रही थी कि अगली सुबह स्थिति में पिछले सालों के मुकाबले सुधार देखने को मिलेगा। लेकिन दिवाली की रात लोगों ने पटाखों जलाए और इन नियमों, सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का खुलेआम उल्लघंन किया। लोगों ने दिल खोलकर पटाखें जलाए। न ही कोर्ट द्वारा बताए गए समय का ध्यान रखा, न ही पटाखों की गुणवत्ता का। अगली सुबह स्थिति बदतर पाई गई।

राजधानी दिल्ली में गुरुवार सुबह धुंध छाई रही और न्यूनतम तापमान 10.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिवाली के एक दिन बाद दिल्ली की वायु गुणवत्ता का स्तर 'गंभीर' हो गया है। वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूवार्नुमान अनुसंधान प्रणाली (एसएएफएआर) के अनुसार, देश की राजधानी दिल्ली क्षेत्र में वायु गुणवत्ता बदतर हो गई है और न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री नीचे रहा है।

यह भी पढ़ें :नोटबंदी के पूरे हुए दो साल, सरकार पर हमलावर विपक्ष कर रहा माफी की मांग

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के एक अधिकारी ने कहा, "सुबह के समय धुंध रहने के साथ आसमान साफ रहेगा।" राजधानी दिल्ली में अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। सुबह 8.30 बजे आद्रता 86 फीसदी रही।

यह भी पढ़ें :दिवाली के मौके पर रेलवे का तोहफा, चलाई जाएगी 4 स्पेशल ट्रेन

दिल्ली में बुधवार को वायु गुणवत्ता में थोड़ा सुधार देखा गया था। वायु गुणवत्ता मंगलवार सुबह 'आपातकाल' स्तर में पहुंचने के बाद बुधवार को 'खराब' स्तर में आ गई थी। राजधानी दिल्ली में बुधवार को अधिकतम तापमान 27.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जो सामान्य से एक डिग्री नीचे थे। न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री नीचे 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।


BY : Yogesh mishra


Loading...