कारोबार - माल्या की नियत में पहले से ही थी खोट, कर्ज के पैसों को विमान की देखभाल में लगा दिया

माल्या की नियत में पहले से ही थी खोट, कर्ज के पैसों को विमान की देखभाल में लगा दिया



Posted Date: 09 Feb 2019

4055
View
         

नई दिल्ली। विजय माल्या को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। ईडी के मुताबिक माल्या ने जो कर्ज लिया था उसके पैसे उसने विदेश भेज दिए थे और कभी कर्ज लौटाने की उसकी कोई इच्छा ही नहीं थी। ईडी को यह सूचना किंगफिशर की जांच के दौरान मिली है। जांच में जुटी ईडी को माल्या की कंपनी से संबधित और भी कई महत्वपूर्ण सूचनाएं मिली हैं।

 

भगोड़े विजय माल्या का बैंकों के कंसोर्टियम से 5,500 करोड़ रुपए के कर्ज को लौटाने का कोई इरादा नहीं था। वह शुरू से ही कर्ज का पैसा विदेश भेजने में लगा था। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की ओर से किंगफिशर की जांच में यह जानकारी सामने आई है।

जांच रिपोर्ट के मुताबिक बैंकों ने कर्ज की रिस्ट्रक्चरिंग की, फिर भी माल्या ने मुनाफे में चल रही यूनाइटेड ब्रेवरीज और समूह की अन्य कंपनियों की पूंजी को एयरलाइन में नहीं लगाया। इसके बजाए यूनाइटेड ब्रेवरीज से किंगफिशर को 3,516 करोड़ का अनसिक्योर्ड कर्ज दिया गया।

यह भी पढ़ें.. विदेशी मुद्रा भंडार में इजाफा, 18 हफ्ते बाद पहुंचा 400 अरब डॉलर के पार

ईडी की जांच के मुताबिक 2010 में कर्ज की रिस्ट्रक्चरिंग के बाद बैंकों ने बकाया मूलधन 6,000 करोड़ रुपए से घटाकर 5,575.72 करोड़ रुपए कर दिया था। दिसंबर 2010 में बैंकों ने बंधक शेयरों का एक हिस्सा बेचकर कुछ रकम जुटा ली थी। इसके बाद बकाया मूलधन को और घटाकर 4,930.34 करोड़ रुपए कर दिया था।

इस वजह से किंगफिशर की वैल्यू और घट गई। ईडी के मुताबिक किंगफिशर को एसबीआई, पीएनबी और एक्सिस बैंक ने 3,200 करोड़ रुपए का कर्ज दिया था। माल्या ने इसका बड़ा हिस्सा विमानों के लीज रेंट और रखरखाव के नाम पर विदेश भेज दिया। विमानों का लीज रेंट काफी बढ़ा-चढ़ाकर दिखाया गया।

यह भी पढ़ें.. शेयर बाजार में बड़ी गिरावट, 425 अंक तक लुढ़का सेंसेक्स, निफ्टी भी 126 अंक टूटा


BY : Saheefah Khan




Loading...




Loading...