शोपियां में भारतीय सुरक्षाबलों ने मार गिराए दो आतंकी, शीर्ष हिजबुल कमांडर के होने की भी आशंका

श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर में भारतीय सुरक्षाबलों को एक बार फिर से बड़ी सफलता मिली है। दरअसल शुक्रवार को यहां के शोपियां जिले में सुरक्षाबलों के साथ हुई मुठभेड़ में दो आतंकवादियों को मार गिराया गया है। जिसके बाद यह संभावना लगाई जा रही है कि मारे गए आतंकियों में शीर्ष हिजबुल कमांडर लतीफ टाइगर भी शामिल है।

आतंकी लतीफ इसी आतंकवादी संगठन के कमांडर बुरहान वानी का करीबी सहयोगी था। सूत्रों के हवाले से यह जानकारी मिली है। जैसे ही टाइगर के मारे जाने की संभावना वाली खबर फैली अनंतनाग में झड़प शुरु हो गई। लतीफ टाइगर पुलवामा जिले के अवंतीपोरा से ताल्लुक रखता था।दक्षिण कश्मीर के चार जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद किए जाने के बावजूद मुठभेड़ की खबर फैलने पर दक्षिण कश्मीर के कुछ अन्य इलाकों में भी झड़प होने की खबरें हैं।

यह भी पढ़ें : चुनावी यात्रा : कैसा है एक ब्राह्मण सांसद के गोद लिए गांव में हरिजनों का हाल?

टाइगर अदखारा गांव के इमाम साहिब इलाके में मारा गया और लतीफ टाइगर उर्फ लतीफ अहमद डार के मारे जाने के साथ दक्षिण कश्मीर में 'बुरहान ब्रिगेड' का एक तरह से खात्मा हो चुका है। 12 में से इसके 11 सदस्य मारे जा चुके हैं। 12 में से सिर्फ तारिक पंडित को सुरक्षाबलों ने 2016 में गिरफ्तार किया था। पुलिस ने कहा कि मुठभेड़ के दौरान एक जवान घायल हो गया। मुठभेड़ अभी भी जारी है क्योंकि तीसरे आतंकवादी और सुरक्षाबलों के बीच गोलीबारी चल रही है।

गौरतलब हो कि साल 2019 के शुरुआत से ही भारतीय सुरक्षाबलों ने घाटी में ऑपरेशन आलआउट चला रखा है। जिसके चलते लगातार आतंकियों की धरपकड़ और एनकाउंटर चालू है। वहीं बीते फरवरी माह में हुए पुलवामा हमले के बाद यह अभियान और भी तेज कर दिया गया है। 

यह भी पढ़ें : जावेद अख्तर ने कहा- अगर बुर्का बैन होता है तो घूंघट पर भी लगे प्रतिबंध

,