अंतरराष्ट्रीय - फरवरी में आमने-सामने होंगी विश्व की दो परस्पर विरोधी शक्तियां, मिलने से पहले दी चेतावनी

फरवरी में आमने-सामने होंगी विश्व की दो परस्पर विरोधी शक्तियां, मिलने से पहले दी चेतावनी



Posted Date: 06 Feb 2019

1868
View
         

नई दिल्ली। दुनिया की दो परस्पर विरोधी और ताकतवर शक्तियां एक दूसरे से एक बार फिर मिलने वाले हैं। पिछले साल जून के बाद एक बरस भी नहीं बीता और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग एक-दूसरे से 27-28 फरवरी को वियतनाम में मिलने वाले हैं।

ट्रम्प ने कांग्रेस में स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच में इसका ऐलान किया। इससे पहले दोनों नेता 12 जून को सिंगापुर में मिले थे। उस दौरान दोनों नेताओं के बीच 90 मिनट बातचीत हुई थी। ट्रम्प ने कहा कि उत्तर कोरिया के मसले पर अभी भी काफी काम बचा हुआ है। लेकिन किम जोंग उन के साथ मेरे रिश्ते अच्छे रहे हैं।

हालांकि ट्रम्प ने उत्तर कोरिया को चेतावनी भी दे डाली। उन्होंने कहा कि अगर मैं अमेरिका का राष्ट्रपति नहीं चुना गया तो आने वाले वक्त में उत्तर कोरिया के साथ जंग हो सकती है। ट्रंप और किम वियतनाम में कहां मिलेंगे, ये अभी तय नहीं हुआ है। लेकिन वियतनाम की राजधानी हनोई और तटीय शहर दा नांग के नाम पर चर्चा हो रही है।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक बुधवार को अमेरिका की तरफ से शीर्ष वार्ताकार स्टीफन बीगन और उत्तर कोरिया के किम ह्योक चोल से मुलाकात करेंगे। पिछले साल सिंगापुर के सेंटोसा द्वीप के कापेला होटल में दोनों नेताओं की मुलाकात करीब 90 मिनट चली।

यह भी पढ़ें : चीन और अमोरिका में छिड़ी जंग से मालामाल होगा भारत, इन देशों की भी निकलेगी लॉटरी

इसमें 38 मिनट की निजी बातचीत भी शामिल थी। इसमें ट्रम्प ने किम को पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए राजी कर लिया था। इसके लिए दोनों नेताओं ने एक करार पर दस्तखत किए थे।

यह भी पढ़ें : गिरफ्तारी के बाद अमेरिकी दूतावास ने किया खुलासा, जानबूझकर ये बड़ा अपराध कर रहे थे भारतीय छात्र

बता दें कि ट्रम्प अमेरिका के 12वें ऐसे राष्ट्रपति हैं जिन्हें उत्तर कोरिया के साथ विवाद दूरे करने में कामयाबी मिली। अमेरिका उत्तर कोरिया के साथ विवाद को खत्म करने के लिए 65 साल से कोशिश कर रहा था। अभी तक अमेरिका के 11 राष्ट्रपति इस मसले का हल निकालने में असफल हुए हैं।


BY : Yogesh




Loading...




Loading...